RKant
A solo, offbeat and responsible blog run by Rkant, voted among the best bloggers in world.

योगी सरकार ने बदले की भावना से बर्बाद की सपा सरकार की स्वास्थ्य सेवाएं, आज वही आ रहीं काम : अखिलेश

लखनऊ : समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मंगलवार को राज्य की मौजूदा भाजपा सरकार पर पूर्ववर्ती सपा सरकार के प्रति बदले की भावना से उसके द्वारा शुरू की गई स्वास्थ्य सेवाओं को बर्बाद करने का आरोप लगाया.

अखिलेश यादव ने यहां एक बयान में कोविड-19 महामारी से प्रदेश में हालात बदतर होने का आरोप लगाते हुए कहा, ‘समाजवादी पार्टी सरकार के हर काम से एलर्जी रखने के कारण मुख्यमंत्री कोविड-19 मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ करते रहे. उन्होंने स्वास्थ्य सेवाओं पर ध्यान नहीं दिया. समाजवादी पार्टी ने मांग की थी कि चूंकि भाजपा सरकार नया अस्पताल तो बना नहीं सकी इसलिए कैंसर अस्पताल को चालू किया जाए. तब भाजपा सरकार कान में तेल डाले रही. अब जब पानी सिर से ऊपर बहने लगा है तो हज हाउस सरोजनीनगर, अवध शिल्प ग्राम और कैंसर अस्पताल को कोविड-19 सेंटर बनाया जा रहा है. इनका निर्माण भी समाजवादी सरकार में ही हुआ था.’

पूर्व मुख्यमंत्री ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा, ‘बदले की भावना से भाजपा ने समाजवादी पार्टी सरकार की स्वास्थ्य सेवाओं को बर्बाद किया जबकि आज वही काम आ रही हैं. मरीजों को अस्पताल पहुंचाने वाली 108 तथा 102 एम्बुलेंस सेवाएं तभी चालू की गई थीं. इनसे काम चलाने की अब भाजपा की मजबूरी है.’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘अकर्मण्य भाजपा सरकार ने अपने चार साल के कार्यकाल में ऐसी व्यवस्था का निर्माण किया जिसमें न जीवित की जान बच पा रही है और न ही श्मशानघाट में अंत्येष्टि हो पा रही है. भाजपा सरकार और इसके मुख्यमंत्री की प्राथमिकता सत्ता पाना और चुनाव जीतना भर रह गया है, भले ही उनकी रैलियों और सभाओं से कोरोना वायरस का विस्तार होता रहे. लोगों के जान की कीमत की भी उन्हें परवाह नहीं.’

सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार लगातार चार वर्षों से प्रदेश की जनता को धोखा देती रही है. उन्होंने कहा कि हद तो तब हो गई जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुख्यमंत्री योगी को उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस महामारी पर विजय हासिल करने के लिए बधाई दे डाली तो बदले में मुख्यमंत्री ने विश्व के अन्य राष्ट्रों की तुलना में भारत में कोरोना वायरस पर सामयिक नियंत्रण के लिए प्रधानमंत्री की प्रशंसा कर दी. उन्होंने कहा कि दोनों के बधाई संदेशों की स्याही सूखी भी नहीं थी कि भारत और विशेषकर उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर महामारी के रूप में फैल गई.

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: