RKant
A solo, offbeat and responsible blog run by Rkant, voted among the best bloggers in world.

SIT ने आशीष मिश्रा समेत चारों आरोपियों के साथ किया लखीमपुर कांड का रीक्रिएशन

लखीमपुर खीरी: तिकोनिया हिंसा कांड की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) गुरुवार को आशीष मिश्रा मोनू और तीन अन्य आरोपियों को लेकर तीन अक्टूबर को हुई घटना का रीक्रिएशन कराने घटनास्थल पर पहुंची. इस घटना में चार किसानों और एक पत्रकार सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी.

पुलिस ने बताया कि हिरासत में लिए गए चारों आरोपियों को कड़ी सुरक्षा के बीच घटनास्थल पर ले जाया गया. यह घटना लखीमपुर जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर तिकोनिया-बनबीरपुर मार्ग पर हुई थी.


यह भी पढे़ें:‘प्राइवेट पार्ट्स पर हमला’- AISA की महिला कार्यकर्ताओं ने दिल्ली पुलिस पर लगाया उत्पीड़न का आरोप


तिकोनिया हिंसा के आरोपी आशीष मिश्रा मोनू को 12 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद नौ अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था और अदालत ने उन्हें 12 से 15 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में भेजा था. एक अन्य आरोपी शेखर भारती को 12 अक्टूबर को गिरफ्तार किया गया था, जबकि अंकित दास और लतीफ उर्फ काले की गिरफ्तारी 13 अक्टूबर को हुई थी. अंकित दास, लतीफ और शेखर भारती 14 से 17 अक्टूबर तक पुलिस हिरासत में थे.

एसआईटी गुरुवार को अंकित दास, लतीफ और शेखर भारती को पुलिस हिरासत में लेने के लिए सुबह जिला जेल परिसर पहुंची. तीनों को रिजर्व पुलिस लाइन स्थित अपराध शाखा कार्यालय ले जाया गया, जहां आशीष मिश्रा मोनू पहले से ही पुलिस हिरासत में है.

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया क्षेत्र में तीन अक्टूबर को उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के पैतृक गांव के दौरे का किसान विरोध कर रहे थे. इसी दौरान किसानों पर अजय मिश्रा के बेटे आशिष मिश्रा ने किसानों पर गाड़ी चढ़ा दी थी. इस घटना में चार किसानों समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी.


यह भी पढ़ें: लखीमपुर खीरी में मारे गए BJP कार्यकर्ता के परिवार से मैंने क्यों मुलाकात की: योगेंद्र यादव


 

You may also like...

Leave a Reply

%d bloggers like this: